संदेश

July 2, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

बुरहान वानी को किसने मारा

चित्र
बुरहान ! तुम्हारे चले जाने के एक साल बाद भी कश्मीर में कुछ लोग तुम्हे बहुत याद करते हैं। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सैफुद्दीन सोज़ कहते हैं ,तुम अगर जिन्दा होते तो वे तुमसे जरूर बात करते। ये अलग बात है जब तुम्हारे पोस्टर सोशल मीडिया पर छपते थे ,तुम्हारे आतंक की खबरे अखबारों में छपती थी , तब वे केंद्र में कैबिनेट मंत्री थे। वे चाहते तो तुम्हारे घर आ सकते थे ,लेकिन वे नहीं आये। जाहिर है वे  झुठ बोल रहे हैं और सिर्फ सियासत कर रहे हैं । ठीक उसी तरह जैसे हुर्रियत लीडर से लेकर पाकिस्तान तुम्हे एक सियासी मोहरा बनाकर आज भी बेच रहे हैं। हर कोई तुम्हारे नाम पर सियासी रोटी सेक रहा है। लेकिन यह जानकार तुम्हे भी दुःख होगा कि तुम्हारे नाम से जो सियासी हंगामा खड़ा किया गया उसमे अबतक 110 मासूमो की जान चली गयी ,सैकड़ो स्कूल जला दिए गए ,जो अबतक वैसे ही राख के ढेढ़ बने हुए हैं ।   तुम्हारे जाने का मुझे भी दुःख था क्योकि तुममे कुछ करने का जज्वा था लेकिन तुमने गलत लोगो को अपना आदर्श माना  ! ठीक वैसे ही अफसोस मुझे तब हुआ था जब लोग तुम्हे कश्मीर में हिज़्ब के पोस्टर बॉय कहने लगे थे। स्थानीय कॉलेज…